Sunday, 31 December 2017

"नववर्ष 2018 की हार्दिक शुभकामनाएँ"



सभी स्वर्णकार समाजबंधू,मित्रों एव शुभचिंतको को नववर्ष "2018" की हार्दिक शुभकामनाएँ
नया साल आप सबको ज़िन्दगी में सुख,हर्ष,कामयाबी के साथ आपके हर सपने को पुरा करे।
आप सुख समृद्धिवान,आयुष्मान और स्वस्थ्य रहें। आपके जीवन के प्रत्येक क्षण आप प्रगति के पथ पर अग्रसर रहें।
हैप्पी न्यू इयर-2018



शुभेछु
स्वर्णकार रिश्ते

www.swarnkarrishtey.in
एडमिन टीम



Friday, 27 October 2017

आज के युवक-युवतिओं के लिए शादी कि सलाह

    जिनको
• तालमेल बैठाना नहीं आता हो
• झुकना नहीं जानते हो
• बर्दाश करने कि हिम्मत ना हो
• दुसरो पर विश्वास करना ना आता हो 
• सन्मान करना नहीं जानते
• दुसरो को समजना नहीं आता हो
• समझोता करना नहीं आता हो
 दुसरो के लिए अपनी आदतो को बदलना नहीं आता हो।
ऐसे लोगो को शादी का ख्याल छोड़ देना ही उनके भविष्य के लिए अच्छा है
नहीं तो आप किसी एक इंसान और उसके पुरे परिवार कि जिंदगी बर्बाद करने जा रहे है।

क्योकि शादी के बाद सुखी वैवाहिक जीवन के लिए आपको तालमेल बिठाना,झुकना,बर्दाश करना,
आदतो को बदलना,सन्मान करना,दुसरो को समझना,यह सबकुछ करना पड़ता है।

युवा पीढ़ी हमेशा याद रखे की शादी याने 
• दो अलग लोग,
• दो अलग विचारो
• दो अलग सोच
• दो अलग आदतो
• दो अलग संस्कार 
वालो का मिलन होता है और उसमे आपको कही ना कही समझोता करना ही पड़ता है
क्योकिशादी याने एक तरह का "समझोता" है।


www.swarnkarrishttey.in
India's #1 Swarnkar Matrimonial Website ♡♡


Tuesday, 17 October 2017

धनतेरस ,दीपावली और भाईदूज की हार्दिक शुभकामनाये।

स्वर्णकार रिश्ते वैवाहिक वेबसाइट की पूरी एडमिन टीम के तरफ से
धनतेरस ,दीपावली और भाईदूज की सभी समाजबंधुओ एव परिवार को
हार्दिक बधाई एव शुभकामनाये। 

लक्ष्मीजी और गणेशजी की कृपा से आपको कामयाबी, सुख, शांति और समृद्धि प्रदान हो।
आनेवाला वर्ष आपके लिए खुशियोभरा हो,आरोग्यपूर्ण हो।


🌟 शुभ दीपावली
🌟







शुभेछुक
स्वर्णकार रिश्ते

www.swarnkarrishtey.in
एडमिन टीम




Monday, 16 October 2017

सभी स्वर्णकार समाजबंधू,मित्रों एव शुभचिंतको को "धनतेरस" की शुभकामनाये।

सभी स्वर्णकार समाजबंधू,मित्रों एव शुभचिंतको को
स्वर्णकार रिश्ते कि ओर से को "धनतेरस" की शुभकामनाये।

भगवान कुबेर और माता लक्ष्मी की कृपा आप सभी पर सदैव बनी रहे।
आप सभी सुखी समृद्ध व खुशहाल हो।

।। शुभ दीपावली।।

 




शुभेछु
स्वर्णकार रिश्ते

www.swarnkarrishtey.in

एडमिन टीम

Saturday, 14 October 2017

दीवाली धमाका आफर..50% डिस्काउंट ऑफर ऑन मेम्बरशिप

स्वर्णकार रिश्ते वैवाहिक वेबसाइट लेकर आये है
दीवाली धमाका आफर ⚡

"50% डिस्काउंट ऑफर ऑन मेम्बरशिप"

जल्दी कीजिये दीवाली ऑफर

16 से 23 अक्टूबर तक ऑफर सिमित है।

आज ही www.swarnkarrishtey.in
में अपना या अपने बच्चो के शादी के प्रोफाइल रजिस्टर
कर 50% मेम्बरशिप ऑफर का लाभ लीजिये।


स्वर्णकार रिश्ते दीवाली ऑफर का मतलब
शुभ भी-लाभ भी।

अधिक जानकारी के लिए www.swarnkarrishtey.in विजिट करे
या मोबाइल 9029731422 पर कॉल करे।


दीपावली की सभी समाजबंधुओं और परिवार को हार्दिक शुभकामनाये।

शुभ-दीपावली



स्वर्णकार रिश्ते
Mobile: 9029731422





 

Wednesday, 4 October 2017

हमारे आदि पुरुष श्री अजमीढ़जी महाराज का इतिहास

चंद्रवंश की अठाइसवी पीढ़ी में महाराजा अजमीढ़जी का जन्म हुआ था। महाराजा अजमीढ़जी विकुंठनजी के जेष्ठ पुत्र और हस्ती के जेष्ठ पोत्र थे। जिनोने हस्तिनापुर बसाया था। द्विमीढ़ एव पुरुमीढ़ दोनों अजमीढ़जी के छोटे भाई थे।अजमीढ़जी जेष्ठ होने के कारण हस्तिनापुरराजगद्दी के उतराधिकारी हुए।अजमीढ़जी की जन्म तिथि के बारेमे किसी भी पुराण में उलेख नहीं मिलाता है तथा उनके राज्यकाल के विषय में इतिहासकारों का अनुमान है की ई.पू. 2200 से ई.पू. 2000 वर्ष में इनका राज्यकाल रहा है। महाराजा विकुंठनजी के बाद अजमीढ़जी प्रतिष्टानपुर (प्रयाग) एव हस्तिनापुर दोनों राज्यों के सम्राट हुए।
प्रारभ में चन्द्रवंशीयों की राजधानी प्रयाग प्रतिष्टानपुर में ही थी। हस्तिनापुर बसाये जाने के बाद प्रमुख राज्यगद्दी हस्तिनापुर हो गई।सुहोत्र के सुवर्णा से हस्ती हुए जिनके नाम पर पूरे प्रदेश का नाम हस्तिनापुर पड़ा। हस्ती के यशोधरा से विकुंठन हुए और विकुंठन के सुदेवा से अजमीढ़ हुए। इन तथ्यों से इस बात की जानकारी मिलाती है की अजमीढ़जी की राज्य सीमा विस्तृत क्षेत्र में फैली हुई थी। इनके छोटे भाई द्विमीढ़ से बरेली के आस पास द्विमीढ़ नमक वंश चला। पुरुमीढ़ निसंतान ही रहे।ब्रम्हांड पुराण के अनुसार अजमीढ़जी मूलतः क्षत्रिय थे। पुरानो के अनुसार अजमीढ़जी की तीन रानिया थी जिनका नाम नलिनी,केशनी एव धुमिनी था। इन तीनो रानियों से अजमीढ़जी के कई वंशोपादक पुत्र हुये। इन्होने गंगा के ऊत्तरीऔर एव दक्षिणी दिशा में अपने राज्य का विस्तार किया। अजमीढ़जी का नील नामक पुत्र ऊतर पाझाल शाखा राज्य का शासक हुआ,जिसकी राजधानी अहिज्छत्रपुर थी। महाभारत के एक अध्याय में अजमीढ़जी की चार रानियों का ऊलेख मिलता है। ये कैकयी,गान्धारी,विशाला तथा रुता थी। अजमीढ़जी की चोथी पीढ़ी पीढ़ी राजस्व नाम का राजा हुआ। इसने सिंधु नदी के भू भाग पर अपना आधिपत्य जमाया। इसके पांच पुत्र हुये। ये पाचों पञ्च पाञ्चलिक नाम से प्रसिद्ध हुए।
अजमीढ़जी एक महा प्रतापी वंशकर राजा थे। इनके वंश में होने वाले अजमीढ़जी वंशी कहलाये। महाभारत में वन पर्व में विदुर को अजमीढ़ वंशी कहा गया है। इसी पुराण में जहनु के वंश को भी अजमीढ़ वंशी कहा गया है। ब्रम्हपुराण के अनुसार अजमीढ़जी की तीनों पत्नियों से अजमीढ़जी वंश की तीन शाखाये बनी। केशिनी के पुत्र जहु से अजमीध वंश चला।
अन्य दो रानियों नीली व धुमिनी से भी दो पृथक वंश चले जो अजमीढ़ वंशु नाम से ही प्रख्यात हुये।
अजमीढ़ को धुमिनी नाम की पत्नी से ऋत नामक पुत्र हुआ। ऋत के पुत्र संवरण और संवरण के पुत्र कुरू से कोरव वंश प्रतिष्टापित हुआ।
वर्तमान मेरठ जिल्हे की मवाना तहसील के पश्चिम में गंगा और और यमुना के मध्य प्रदेश को हस्तिनापुर कहा गया है। महाराजा हस्ती के जीवन काल की प्रमुख घटना यही मानी जाती है की उनोने हस्तिनापुर का निर्माण करवाया। प्राचीन समय में हस्तिनापुर न केवल तीर्थ स्थल ही रहा है परन्तु देश का प्रमुख राजनैतिक एव सामाजिक केंद्र रहा है। कालांतर में हस्तिनापुर कौरवों की राजधानी रहा जिसके लिए प्रसिध्य कुरुक्षेत्र युद्ध हुआ। अजमीढ़ नि:संदेह पौरववंश के महान सार्व भौम सम्राट थे। यद्यपि सही प्रमाणों के आभाव पूर्ण दावा तो नहीं किया जा सकता है किन्तु कई एक साहितिक एव एतिहासिक प्रमाणों के आधार पर इस बात के संकेत मिलते है की वर्तमान अजमेर जिसका प्राचीन नाम अज्मेरू था उसके संस्थापक अजमीढ़ ही थे। अजयराज चौहान द्वारा १२वी शताब्दी में अजमेर की स्थापना किये जाने की मान्यता निरस्त करने के कई प्रमाण उपलब्ध है।
अजयराज चौहान के अतिरिक्त कोई दूसरा दावेदार इतिहास में नहीं है। अंत: बहुत संभव है की अजमीढ़ द्वारा ही ही अजमेर की स्थापना की गई थी। मैढ़ जाती को गौरवन्वित करने में अहम् भूमिका निभा सकते है।
शरद पूर्णिमा (आश्विन शुक्ला १५) के दिन अजमीढ़जी जयंती मनाने की परम्परा मैढ़ क्षत्रिय स्वर्णकार समाज में वर्षो से चली आ रही है। मैढ़ क्षत्रिय स्वर्णकार जाति की गरिमा को आगे बनाये रखने के लिए प्रत्येक मैढ़ क्षत्रिय का कर्त्तव्य है की उनके आदर्श का अनुसरण करे तभी हम अपने आदि पुरुष के प्रति कर्तव्य निष्ठ बने रह सकेंगे।





स्वर्णकार रिश्ते 

www.swarnkarrishtey.in 

Mobile:9029731422



सभी स्वर्णकार बंधूओ और परिवार को महाराजा अजमीढ़जी जयंती की हार्दिक बधाई और शुभकामनाये ....!!


मैढ़ क्षत्रिय स्वर्णकार समाज के आदि पुरुष (प्रथम पूर्वज) "महाराजा अजमीढ़जी जयंती" के पावन अवसर पर सभी स्वर्णकार बंधूओ और परिवार को "स्वर्णकार रिश्ते" ग्रुप के तरफ से हार्दिक बधाई और शुभकामनाये।
श्री अजमीढ़जी महाराजा का मैढ़ क्षत्रिय स्वर्णकार समाज हमेशा ऋणी रहेगा। 
हमारे आदिपुरुष श्री महाराजा अजमीढ़जी को श्रध्दासुमन अर्पित कर साथ-साथ मिलकर आगे बढ़ने का संकल्प करे।

हाथ बढाओ-साथ बढाओ-जय स्वर्णकार समाज

जोर से बोलो-प्रेम से बोलो- सारे बोलो
"जय अजमीढ़जी"

---> मुझे गर्व है कि मैं "स्वर्णकार" हुँ।



शुभेछु:
स्वर्णकार रिश्ते
एडमिन टीम
www.swarnkarrishtey.in 

    



Friday, 29 September 2017

विजयदशमी एव दशहरा की हार्दिक शुभकामनाये।

सभी समाजबंधुओं एव परिवार को
स्वर्णकार रिश्ते के तरफ से

विजयदशमी एव दशहरा की हार्दिक शुभकामनाये।





शुभेच्छुक
स्वर्णकार रिश्ते
एडमिन टीम

www.swarnkarrishtey.in

Thursday, 24 August 2017

"गणेश चतुर्थी" की हार्दिक शुभकामनाएं।

स्वर्णकार रिश्ते के तरफ से सभी स्वर्णकार बंधुओ और परिवार को


"गणेश चतुर्थी" की हार्दिक शुभकामनाएं।


विध्नहर्ता श्री गणेश जी आपकी मनोकामना पुर्ण करे।


॥ गणपति बाप्पा मोरया ॥








🌷 शुभेछु 🌷
स्वर्णकार रिश्ते 

www.swarnkarrishtey.in


Thursday, 20 April 2017

स्वर्णकार रिश्ते प्रतियोगिता में बढ़-चढ़ कर भाग लें।


स्वर्णकार रिश्ते वैवाहिक वेबसाइट swarnkarrishtey.in स्वर्णकार समाज के वैवाहिक मुद्दो को समाज तक पहुचने के लिए एक प्रतियोगिता आयोजित कर रहे हैं। अगर आप वैवाहिक मुद्दो पर लिखते/लिखती हैं, तो 11 मई 2017 तक ' निन्मलिखित विषय पर अपने अपने विचार को लिखकर भेज दीजिए। प्रतियोगिता में भाग लेने वालो के लिए कई इनाम भी हैं।

स्वर्णकार रिश्ते प्रतियोगिता का विषय :
आजकल समाज मे युवक-युवतियों के रिश्ते समय पर नही होना ?
उसके कारण और सुझाव।



स्वर्णकार रिश्ते प्रतियोगिता की ज़रूरी बातें और नियम:
1 - लेख पहले से किसी पत्रिका में प्रकाशित नहीं होना चाहिए।
2 - भाषा हिंदी ही होनी चाहिए।
3 - शब्द सीमा लेख - 800 -1200 शब्द है।
4 - लेख आपका स्वयं का होना चाहिए।
5- जमा करने की अंतिम तिथि 11 मई 2017 है।
6- स्वर्णकार रिश्ते एडमिन टीम का निर्णय अंतिम होगा।


आप अपने लेख info@swarnkarrishtey.in इस मेल आईडी पर भेजें या अपने विचार 9029731422 व्हाट्सअप नंबर पर भी भेज सकते है। आपके लेख या अपने विचार 11 मई 2017 तक भेज सकते है।

पहले तीन सर्वश्रेठ लेख या विचारो को स्वर्णकार रिश्ते वैवाहिक वेबसाइट के तरह पुरुस्कृत किया जायेगा और
उनके विचारो को स्वर्णकार रिश्ते वैवाहिक वेबसाइट और फेसबुक ग्रुप में प्रकाशित किया जायेगा।

• प्रथम पारितोषिक: 501 रुपये /
• दितीय पारितोषिक: 301 रुपये /
• तृतीय पारितोषिक: 201 रुपये


स्वर्णकार रिश्ते वैवाहिक वेबसाइट प्रतियोगिता में बढ़-चढ़ कर भाग लें।









स्वर्णकार रिश्ते
एडमिन टीम

www.swarnkarrishtey.in
मोबाइल: 9029731422 (Whatsaap)
ईमेल: info@swarnkarrishtey.in

Monday, 10 April 2017

श्री हनुमान जयंती की शुभकामनाये।

सभी स्वर्णकार समाज बंधुओ और परिवार को स्वर्णकार रिश्ते परिवार की और से
"श्री हनुमान जयंती" की हार्दिक शुभकामनाये।
प्रभु आपकी हर मनोकामना पूर्ण करे ।

'जय श्री राम'



 

Friday, 7 April 2017

आज है स्वर्णकार रिश्ते वैवाहिक वेबसाइट www.swarnkarrishtey.in की "तीसरी वर्षगांठ "


आज स्वर्णकार रिश्ते वैवाहिक वेबसाईट www.swarnkarrishtey.in की तीसरी वर्षगांठ
पर सभी स्वर्णकार रिश्ते वेबसाइट के मेम्बर्स,एडमिन टीम और सभी समाज बंधुओ
को हार्दिक बधाईयाँ एव शुभकामनाये।
आज से ठीक तीन वर्ष पूर्व 8 अप्रैल 2014 को स्वर्णकार रिश्ते वेबसाइट का शुभारभ हुआ था और
आज तीन साल पुरे कर चवथे साल में प्रवेश कर रहे है।आज पुरे भारत में रिश्ते ढूढने और बनाने मे
स्वर्णकार रिश्ते वेबसाइट अपनी  एक अलग पहचान बनाने में कामियाब हुआ है।
आज तक वेबसाइट से 8000 से ज्यादा समाज के विवाहयोग बच्चो के बायोडाटा रजिस्टर हुए है
और बहोत ख़ुशी की बात है की वेबसाइट के माध्यम से कई शादी/रिश्ते हुए है और कई रिश्ते/सगाई हो रही है।
कई दिलो को मिलाने और कई परिवारों को एक दूसरे से जोड़ने का कार्य स्वर्णकार रिश्ते के माध्यम से हो रहा है।आज हम सफलतापूर्वक यहाँ पहुंच पाये है उसका पूरा श्रेय आप सभी समाजबंधुओं और युवाओ और सभी एडमिन को जाता है,जिनके प्यार,सहयोग,मार्गदर्शन और साथ से आज हम
तीसरी वर्षगांठ बना रहे है।
आने वाले समय मे स्वर्णकार रिश्ते वेबसाइट रिश्ते ढूढने और बनाने मे बहोत ही लाभदाही होंगी।
तीसरी वर्षगाठ पर 8 से 23 अप्रैल तक नए और पुराने रजिस्टर मेंबर्स मेम्बरशिप लेते है
तो मेम्बरशिप पर २५% डिस्काउंट पा सकते है।

आप सभी के प्यार,सहयोग एव मार्गदर्शन के लिए बहोत बहोत धन्यवाद।











स्वर्णकार रिश्ते
एडमिन टीम

www.swarnkarrishtey.in
Mobile: 9029731422 


Wednesday, 5 April 2017

www.swarnkarrishtey.in 3rd Anniversary Discount Offer !!

स्वर्णकाररिश्ते वैवाहिक वेबसाइट 8 अप्रैल को अपनी तीसरी वर्षगाठ मनाने जा रहे है।
तीसरी वर्षगाठ के अवसर पर मेम्बरशिप पर 25% डिस्काउंट ऑफर लेकर आये है। अपना प्रोफाइल www.swarnkarrishtey.in पर रजिस्टर कर मेम्बरशिप ले और 25% डिस्काउंट ऑफर पाए।

जल्दी कीजिये एनिवर्सरी ऑफर 22 अप्रैल तक सिमित है।


स्वर्णकार रिश्ते-रिश्तो का खजाना।













स्वर्णकार रिश्ते
www.swarnkarrishtey.in
Mobile: 9029731422



Monday, 3 April 2017

आप सभी को "राम नवमी" की हार्दिक शुभकामनाये।

स्वर्णकार रिश्ते परिवार के ओर से
आप सभी मेंबर्स ,एडमिन और
समाजबंधुओ को
"राम नवमी"
की हार्दिक शुभकामनाएं।

प्रभु श्री रामजी आप की जिन्दगी में
हर खुशहाली प्रदान करे।


🚩🙏 जय श्री राम 🙏🚩





स्वर्णकार रिश्ते
एडमिन टीम
मोबाइल: 9029731422

www.swarnkarrishtey.in

 

Sunday, 2 April 2017

स्वगीय श्री हीरालालजी भेरुलालजी मौसूण,अमरावती के स्मृति में 11,111 रुपये समाज के आर्थिक रूप कमजोर परिवार के बेटी की शादी के लिए देने का संकल्प।


11 फरवरी को मेरे पिताजी का स्वर्गवास हुआ और 22 फरवरी उनके पगड़ी रस्म में मेरे परिवार ने 11,111 रुपये स्वगीय श्री हीरालालजी भेरुलालजी मौसूण,अमरावती के स्मृति*में समाज की आर्थिक रूप से कमजोर परिवार के बच्चे के शादी के लिए आर्थिक योगदान करने का सभी समाज के पदाधिकारीओ एव समाजबंधु एव रिश्तेदार के सामने संकल्प किया था।
जब भी महाराष्ट्र प्रदेश के हमारे आर्थिक रूप से कमजोर परिवार के लड़की की शादी के लिए आर्थिक सहयोग की जरुरत हो तो मौसूण परिवार अमरावती से संपर्क (9029731422) कर सकते है।
उनकी बेटी की शादी में 11,111 रुपये आर्थिक योगदान दिया जायेगा।
जरुरत पड़ी तो उस बेटी का सादगी से विवाह मौसूण परिवार एव अमरावती समाज साथ मिलकर करने में लिए हमेशा तैयार रहेगा।


धन्यवाद।
जय अजमीढ़जी









नंदकिशोर हीरालालजी मौसूण
अमरावती

फाउंडर स्वर्णकार रिश्ते
www.swarnkarrishtey.in
Mob: 9029731422


Sunday, 26 March 2017

आप सभी को "हिन्दू नववर्ष (गुड़ी पाड़वा)" की हार्दिक शुभकामनाये।

स्वर्णकार रिश्ते ग्रुप और वैवाहिक वेबसाइट की और से आप सभी स्वर्णकार समाजबंधुओ और परिवार को
 हिन्दू नववर्ष चैत्रप्रतिपदा 2074 संवत (गुड़ी पाड़वा) की हार्दिक शुभकामनाएं ।।

हिन्दू नववर्ष आप की जिन्दगी में हर खुशहाली प्रदान करे।

🚩🙏!! जय श्री राम !!🙏🚩





स्वर्णकार रिश्ते
www.swarnkarrishtey.in
स्वर्णकार समाज की पहली वैवाहिक वेबसाइट





Sunday, 12 March 2017

होली की हार्दिक बधाइयाँ और शुभकामनाएँ !!


स्वर्णकार रिश्ते के तरफ से सभी सभी स्वर्णकार समाज बंधुओ और परिवार को
रंगो का त्यौहार "होली" की रंग भरी हार्दिक बधाईयाँ एव शुभकामनाएँ।


"रंगो कि होगी बरसात 
और अपनो का होगा साथ।
होली का मज़ा हो जायेगा दुगना
जब होगा स्वर्णकार रिश्ते का साथ"


"याद रहे…सिर्फ गुलाल"



स्वर्णकार रिश्ते
एडमिन टीम

www.swarnkarrishtey.in



Sunday, 29 January 2017

स्वर्णकार रिश्ते वैवाहिक ग्रुप बन गया 25,000 वाला फेसबुक ग्रुप !!


आज अजमीढ़जी महाराजा और आप सभी के स्नेह,आशीर्वाद और मदद "स्वर्णकार रिश्ते" फेसबुक ग्रुप से 25,000 वाले वाले फेसबुक ग्रुप में शामिल हो गया है।
आज आप सभी के सहयोग और प्यार से "स्वर्णकार रिश्ते" ने एक और इतिहासिक मुकाम हासिल किया है।
किसीने ने नहीं सोचा था की एक छोटासी कल्पना का रूप इतना बड़ा हो जायेगा और स्वर्णकार समाज की दिल की धड़कन बन जाएगी।
लेकिन दिन में देखे हुए सपने भी सच होते है यह आज सिद्ध हो गया है बस आपको उसके लिये दिन रात कड़ी महनत और लगन करनी पड़ती है।

स्वर्णकार रिश्ते का आज जिस तेजी से आगे बढ़ रहा है और समाज के विवाह योग्य युवक-युवतीओ के लिए जीवनसाथी तलाश करने में मदत कर रहा है यह आपकी सहयोग के बिना कभी पूरा नहीं हो सकता था साथ साथ एडमिन टीम की मेहनत,लगन,समाज के लिए कुछ अच्छा करने का जस्बा ही है की स्वर्णकार रिश्ते आज इस मुकाम तक पंहुचा है।

स्वर्णकार रिश्ते के 5-6 सालो के सफ़र में स्वर्णकार रिश्ते ने आप सभी समाज बंधूओ का जो प्यार पाया है वो काबिले तारीफ है और आज स्वर्णकार रिश्ते भारत के हर राज्य ,शहर और गाँव से आगे बढाकर सात समुन्दर दुसरे देशों में पहुचने में काबियाब हुआ है।
इन 5-6 सालो के सफ़र में स्वर्णकार रिश्ते ने हजारो रिश्ते जोड़े है ,कितने परिवार को एक दूसरे से मिलाया ,कई युवक युवतियो को एक दूसरे का जीवनसाथी बनाने में एक भूमिका निभाई। कई युवाओ को उनके व्यक्तिगत प्रश्नों को सुनकर उन्हें एक सही राह दिखाई। कई नवयुगल को उनके वैवाहिक जीवन में जो अनबन आई उसको सही राह और रास्ता दिखाकर फिर से उनकी गृहस्थी बनाई है ,कई युवाओ के घर और जिंदगी टूटने से बचाई है। कई परिवारों को कुंडली के चक्कर के साइड इफेक्ट को समज़ाकर उनके बच्चो की सही उम्र और समय में शादी जोड़ने में एक अहम् भूमिका और फर्ज निभाया है। स्वर्णकार रिश्ते वैवाहिक वेबसाइट का शुभारंभ कर वेबसाइट से भी हजारो रिश्ते बनाने में एक प्लेटफार्म समाज को दिया है।
वेबसाइट के माध्यम बहोत समाज के जरूरतमंद बच्चो को शिक्षा के लिए आर्थिक मदत तो कभी गरीब और जरूरतमंद समाजबंधुओ को उनके ईलाज के लिए मदत का हाथ बढ़ाया है तो कभी होनहार बच्चो को सन्मानित भी किया है। स्वर्णकार रिश्ते के माध्यम से कई सामाजिक कार्य किये है और आगे भी करते रहेंगे और समाज के प्रति अपनी जिमेदारी निभाते रहेंगे।

स्वर्णकार रिश्ते के माध्यम से कितने परिवारों और कितने नवयुवको के जिंदगी में मुस्कान लाने में हम कुछ हद तक कामियाब हुए है उनके जिंदगी में खुशिया लेकर उनके वैवाहिक जीवन सुखमय किया है।
यह काम इतना आसान भी नहीं था कुछ लोगो ने हमें रोकना चाहा। बहोत से समाजबंधुओं ने टाँग खिंचाई करने की कोशिश की। कितनो ने हमें ताने मारे लेकिन हम नहीं रुके और समाज के ज्यातातर समाजबंधुओं स्पेसिअली युवाओ ने हमारे इस कार्य में जो हमारा साथ दिया उसी का नतीजा है की आज हम यहाँ तक पहोच पाए है। आपके सहयोग,प्यार से आगे बढ़ाते रहे और कारवाँ बढ़ता गया और हमने समाज को दिखा दिया की आपमें अगर समाज के लिए कुछ करने का जॉब है तो आप अपने मेहनत ,निस्वार्थ सोच और लगन से समाज के लिए कुछ भी कर सकते है और अच्छे कार्य में पूरा समाज और समाज के लोग आपका साथ ,सहयोग और योगदान देते है और इसीका अच्छा उदहारण आज स्वर्णकार रिश्ते की पहचान है जो पुरे भारत में फ़ैल गई है और बन गई है।


अभी तो ये शुरुवात है ....बहोत बहोत आगे अभी जाना है !!
सभी सदस्यों और एडमिन को बधाई... आप सबका अभिनन्दन !
ग्रुप के आपके अभूतपूर्व सहयोग के लिए ह्रदय से आभार।
भविष्य में भी आपका सहयोग अपेक्षित है।
हमेशा आपका साथ इसी प्रकार बना रहे...यही अभिलाषा।


आप सभी से यही आशा है के आप हम सब के साथ ऐसेही जुड़े रहेंगे और अपने स्नेह्जनो को भी यहाँ जोड़ेंगे आपके के साथ की अभिलाषा रखते है।
आशा है कि स्वर्णकार रिश्ते ग्रुप के सहयोग से स्वर्णकार समाज के विवाह योग्य युवक-युवतीओ को अच्छे से अच्छा रिश्ता मिलकर अच्छा जीवनसाथी मिले और उनका वैवाहिक जीवन ख़ुशियों से भरा रहे इसी आशा के साथ।

ईश्वर से ये प्राथना करते है के इस ग्रुप का जो उदेश है वो सफल हो और दो दिलो एव दो परिवारों को मिलाने में इस ग्रुप का भी हाथ हो।
पुनः स्वर्णकार समाज में पहला ऐसा ग्रुप जिसमें समाज के 25000 मेंबर्स जोड़ने के साथ साथ रिश्ते जोड़ने और समाज में एकता लाने की एक जो नीव रखी जो आने वाले समय में समाज के लिए रिश्ते जोड़ने एव बनने में एक मजबूत प्लेटफार्म बनेगा इसी आशा के साथ।

आप सभी का सहृदय आभार और सभी एडमिन टीम का बहोत बहोत धन्यवाद जिनके साथ ,सहयोग और लगन से आज स्वर्णकार रिश्ते की पहचान बन पाई है।
धन्यवाद।

"स्वर्णकार रिश्ते-रिश्तो का खजाना"




स्वर्णकार रिश्ते
एडमिन टीम
फेसबुक ग्रुप लिंक
: https://www.facebook.com/groups/swarnkarrishtey
व्हॉट्सअप्प नंबर: 9029731422
 www.swarnkarrishtey.in




Wednesday, 25 January 2017

"गणतत्र दिवस" की हार्दिक बधाई और शुभकामनाएँ।

स्वर्णकार रिश्ते वैवाहिक वेबसाइट और ग्रुप की ओर से सभी स्वर्णकार बंधुओ और परिवार को
"गणतत्र दिवस" की हार्दिक बधाई और शुभकामनाएँ।

जय हिंद !!

"भारत माता की जय"

 









शुभेछु
स्वर्णकार रिश्ते
एडमिन टीम

www.swarnkarrishtey.in

Friday, 6 January 2017

24,000 स्वर्णकार रिश्ते मेंबर्स सेलिब्रेशन टाइम !!


आज स्वर्णकार रिश्ते फेसबुक वैवाहिक ग्रुप के 24,000 सदस्य होने पर सभी स्वर्णकार रिश्ते मेंबर्स,एडमिन,शुभ-चिंतको एव सभी स्वर्णकार समाजबंधु,परिवार और सभी युवा साथिओ को हार्दिक बधाईयाँ और शुभकामनाये।
आज आप सभी के सहयोग और प्यार से "स्वर्णकार रिश्ते" ने एक और ऐतिहासिल मुकाम हासिल किया है।

आप सभी के प्यार ,सहयोग और मार्गदर्शन से आज स्वर्णकार रिश्ते इस ऊचाई तक पहुँच पाया है उसके लिए आप सभी का धन्यवाद।
आशा है कि स्वर्णकार रिश्ते ग्रुप के सहयोग से स्वर्णकार समाज के विवाह योग्य युवक-युवतीओ को अच्छे से अच्छा रिश्ता मिलकर अच्छा जीवनसाथी मिले और उनका वैवाहिक जीवन ख़ुशियों से भरा रहे इसी आशा के साथ।

ईश्वर से ये प्राथना करते है के इस ग्रुप का जो उदेश है वो सफल हो और दो दिलो एव दो परिवारों को मिलाने में इस ग्रुप का भी हाथ हो।

सोच बदलो-समाज बदलो

धन्यवाद् !!




 
स्वर्णकार रिश्ते
एडमिन टीम

फेसबुक ग्रुप लिंक : https://www.facebook.com/groups/swarnkarrishtey
व्हॉट्सअप्प नंबर: 9029731422 (24*7 Help Line)
वेबसाइट:
www.swarnkarrishtey.in